National Service Scheme

National Service Scheme

 

 युवाओं केप्रेरणास्रोत स्वामी विवेकानंद जी को प्रणेता मानकर 02 अक्टूबर 1969 गाँधी जयंती के अवसर पर भारत सरकार द्वारा युवाओ को समाज के प्रति संवदेना जागृत करने एवं सेवा कार्य के माध्यम से व्यक्तित्व विकास के लिए यह योजना प्रारंभ  की गई । इस योजना का महत्वपूर्ण उद्देश्य युवाओ को ग्रामीण व्यवस्था के प्रत्यक्ष अनुभव प्राप्त हो एवं उनमे  मानवीय दृष्टिकोण का विकास हो। 
तत्कालीन मध्यप्रदेश (1969) में डाॅ हरी सिंह गौर विश्वविद्यालय सागर एवं पं.रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय रायपुर में इस योजना का प्रारंभ  हुआ। 1969 से 1971 तक यह योजना विश्वविद्यालय इकाई के रूप में संचालित होती रही। 1971-72 से अपने अधीनस्थ महाविद्यालयो में इकाइयाॅ  प्रारंभ  करने की अनुमति शासन से प्राप्त हुई । स्थापना वर्ष के प्रथम चरण में रायपुर जिले के 03 महाविद्यालयो में यह योजना प्रारंभ  की गई हैं। जिसमें सर्वप्रथम शासकीय विज्ञान महाविद्यालय रायपुर,दुर्गा महाविद्यालय रायपुर  एवं शास. डी.के. महाविद्यालय बालोेेैदाबाजार को अवसर प्राप्त हुआ।  तत्पश्चात राष्ट्रीय सेवा योजना का सफर धीरे-धीरे सभी संस्थाओं में प्रारंभ  हुआ ।

1969 से राष्ट्रीय सेवा योजना प्रारंभ  

क्र.     दशक           संस्थाओं की संख्या    छात्र संख्या आबंटन
1 1969 से 1989        23                      2674
2 1990 से 2000        98                     8250
3 2001 से 2010       350                    27075
4 2011 से 2020       375                   30650


 वर्तमान में राष्ट्रीय सेवा येाजना का कार्यक्षेत्र विश्वविद्यालय से संबंधित 05 जिलों में सफलता पूर्वक संचालित छात्र संख्या 18550 इकाइयों की संख्या 221 राज्य के सबसे पुरानेे विश्वविद्यालय में संचालित यह योजना सफलता पूर्वक अपने स्वर्ण जंयती वर्ष को पूरा किया है। राष्ट्रीय सेवा योजना को अग्रिम पंक्ति में रखने के लिए कार्यक्रम अधिकारियों, स्वयं सेवकों, जिला संगठकों एवं कार्यक्रम समन्वयको की महत्वपूर्ण भूमिका के साथ राज्य शासन एवं विश्वविद्यालय  प्रशासन के अधिकारियों का भी महत्वपूर्ण सहयोग प्राप्त होता रहा हैं। राष्ट्रीय सेवा योजना कार्यक्रम अधिकारियो  एवं स्वयंसेवकों ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर, राष्ट्रीय स्तर, एवं राज्य स्तर पर पुरस्कार प्राप्त कर विश्वविद्यालय का गौरव बढ़ाया हैं।  

राष्ट्रिय सेवा योजना कार्यक्रम समन्वयक कार्यकाल  :
 1.   श्री  जे. एस. शुक्ल            1969  से 1973 
 2.   श्री नन्दकिशोर तिवारी     1973 से  1975
 3.   डॉ. आर. एस. रॉय            1975 से 1986   
 4.   डॉ.  बी. के. मेहता             01 अप्रैल 1986 से 30  अप्रैल  1986  
 5.   डॉ. डी.के.पाठक               01 मई 1986  से 15 सितम्बर 2004 
 6.   डॉ. समरेंद्र सिंह               16 सितम्बर 2004 से 13 सितम्बर 2006 
 7    डॉ. आर नायक                14 सितम्बर 24 नवम्बर 2006 
 8.   डॉ. सुभाष चंद्राकर            24 नवम्बर 2006 से 24 नवम्बर 2013 
 9.   डॉ. नीता बाजपाई             25 नवम्बर 2013  से निरंतर